भाषा का चयन करे: हिंदी | मराठी
होम  |   हम हमारे लिये  |  सहाय्य  |  बाहरी संदर्भ
मेडिक्लेम तथा अस्पताल
हर एक मनुष्य का वैद्यकीय बीमा होना आवश्यक है | इस बीमे के अंदर कौनसी चीजें देखनी चाहिए इस बात की जानकारी ज्ञानगुफा मे दी है | पॉलिसी मिलने पर हर किसीने उसे ठीक से पढना चाहिए | बीमारी के कारण यदि आपको अस्पताल मे भर्ती होना आवश्यक हो जाये तो अस्पताल का चयन सही रूप से करें | जिन नागरिकों के पास पीले या नारंगी रंग के राशन कार्ड है उन्हे विनामूल्य वैद्यकीय सेवाएँ कई अस्पतालों मे मिल सकती है | ऐसे कुछ अस्पताल की सारणी ज्ञानगुफा मे दी है | सरकारी योजना के अंतर्गत तीन लाख रुपयों तक वैद्यकीय बिल चुकाने का दायित्व सरकार पर होता है | इस योजना की जानकारी ज्ञानगुफा मे वर्णित है | सभी धर्मादाय ट्रस्ट के अंतर्गत चलनेवाले अस्पतालों मे कुछ सीटें मुफ्त सेवा के लिए रिजर्व होती है | इस सेवाका लाभी भी लिया जा सकता है | इस सेवाका लाभ लेने के लिए आपके लिए आवश्यक होता है कि आप जनरल वार्ड मे भरती हो | यदि किसी गंभीर बीमारी के लिए या कोई खरचेवाला इलाज करवाना हो या पेचिदा शस्त्रक्रिया करवानी हो हमेशा दूसरे डॉक्टर से सेकंड ओपिनियन लें | आप अपने हमेशा के डॉक्टर को ऐसे डॉक्टरों के नाम पूछ सकते है | कुछ डॉक्टर्स की फेरिस्त ज्ञानगुफा मे दी है | जहां आप भर्ती होने जा रहे है वहां आपकी बीमारी के इलाज के लिए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध है या नही यह देख लेना चाहिए | आप डॉक्टर से जेनेरिक दवाईयों के लिए कह सकते है | यह दवाईयां ६०-७०% डिस्काउंट से मिल सकती है | अस्पताल के अन्य बिलों पर भी ध्यान रखना जरुरी होता है | अपनी पॉलिसी के अनुसार डिसचार्ज सर्टिफिकेट को भी चेक करना चाहिए | छोटी छोटी गलतियों के कारण आपका मेडिक्लेम रिजेक्ट हो सकता है |
 
<< >>
उपरोक्त विषय में अधिक मदद / जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

Disclaimer | Privacy Policy
Contents, creation and hosting by © 2018, The Abweb